Koee kalavaree parase yah kah raha hai Lyrics / कोई कलवरी परसे यह कह रहा है

Koee kalavaree parase yah kah raha hai Lyrics | कोई कलवरी परसे यह कह रहा है | Hindi Christian Song Lyrics

Koee kalavaree parase yah kah raha hai
mera khoon naahak yah kyon bah raha hai

ibaadat se dil ko hata dene vaalo
phayaaraaj ko apane bhula dene vaalo
haqeekat ke raaste se phir jaane vaalo
sadaakat dilo se utha dene vaalo

yah duniyaavee phando mein aa jaane vaalo
gunaahon ke jaalo mein phans jaane vaalo
muhabbat khuda kee mita dene vaalo
daga karane vaalo mukar jaane vaalo

nahin yaad karate vah puradard phasaana
maseeh ka muhabbat mein du:kh ka uthaana
vah ishke hakeekee mein khoon ka bahaana
vah soolee par chadhana aur tum ko bachaana

कोई कलवरी परसे यह कह रहा है
मेरा खून नाहक यह क्यों बह रहा है

इबादत से दिल को हटा देने वालो
फयाराज को अपने भुला देने वालो
हक़ीकत के रास्ते से फिर जाने वालो
सदाकत दिलो से उठा देने वालो

यह दुनियावी फन्दो में आ जाने वालो
गुनाहों के जालो में फन्स जाने वालो
मुहब्बत खुदा की मिटा देने वालो
दगा करने वालो मुकर जाने वालो

नहीं याद करते वह पुरदर्द फसाना
मसीह का मुहब्बत में दु:ख का उठाना
वह इश्के हकीकी में खून का बहाना
वह सूली पर चढ़ना और तुम को बचाना

Leave a Comment